From BigBEfamily.com Our Humble Tribute to Mr. Amitabh Bachchan

T ३१२० – घर घर होता है , वापस आगाए ; एक समाप्त हुआ , कल एक और की शुरुआत है ।
नौकरी मिलती रहे बस , यही सवाल एक सवाल है

See Translation